भव्य रथनुमा आईमाताजी का वडेर – बाली (राजस्थान)

पाट एवं अखंड ज्योति स्थापना कर श्रद्वालुओं के दर्शन के लिए मंदिर के पट खोले

जब धर्म और आस्था की बात आती है तो सीरवी समाज हमेशा अग्रीणी रहा है। यही आस्था एक बार फिर राजस्थान के बाली नगरी में देखने को मिली। नगर में दिनांक 7 फरवरी 2020 को रथनुमा नवनिर्मित श्रीआईमाताजी के वडेर (मंदिर) की प्राण-प्रतिष्ठा, पाट एवं अखंड ज्योति स्थापना महोत्सव का मांगलिक कार्यक्रम। वास्तव में बाली वडेर प्राण प्रतिष्ठा अपने आप में एक ऐतिहासिक समारोह के रूप में काफी समय तक याद रहने वाला है। रथनुमा आईमाताजी का भव्य मंदिर एवं कार्यक्रम में पधारने वाले हजारों समाज बंधुओं की व्यवस्था करना अधभुत नजारा।

धर्मगुरू दीवान माधवसिंह का बधावणा

आपको बताते हुए गर्व होता है कि जहा भी नवनिर्मित आईमाताजी को मंदिर बनता है वहा सर्वप्रथम धर्मगुरू के हाथों ही अखण्ड ज्योत की स्थापना होती है। अंखण्ड ज्योति की स्थापना के एक दिन पुर्व समाज के धर्मगुरू दीवान माधवसिंहजी का बधावणा किया गया।

5 विक्टोरिया रथ और हेलीकाॅप्टर से पुष्पवर्षा मुख्य आकर्षण का केन्द्र

पाट स्थापना के एक दिन पूर्व शोभायात्रा निकाली गई जिसमें रथ के साथ विशेष वेशभुषा पहने हजारों महिलाएं कलश लेकर शामिल हुई । शोभायात्रा सड़क मुख्य मार्गो से होते हुए रथनुमा आईमाता वडेर पहुंचकर समापन किया गया। इसमें लगभग 21 हजार लोगों के साथ, सजे-धजे 2 होथी, ढोल वादन पर घुड नृत्य, राजस्थानी और डिजे गीतों पर नृत्य करते कलाकार, 21 घुड़सवार, सजी हुई 5 विक्टोरिया रथ और 5 जीप रथ को देखकर हर उपस्थित लोग माताजी के जयकारें के साथ खुशी से जूम रहे थे।

प्रतिष्ठा कमेटी के अध्यक्ष चेलाराम परमार ने बताया कि 7 फारवरी को शुभ मुहूर्त में प्रतिष्ठा, पाट स्थापना, अखण्ड ज्योति व मूर्तियों की स्थापना के साथ ध्वजा एवं कलश स्थापना की जाएगी। इस दौरान हेलिकाॅप्टर से पूष्पवर्षा की जाएगी।

 

प्रतिष्ठा महोत्सव में 7 दिन के मांगलिक कार्यक्रम एवं धार्मिक आयोजन पर एक नजर

01 फरवरी 2020
प्रातः 8ः30 बजे कलश यात्रा । दोपहर 2 बजे स्थानीय बाल कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम । रात्रि 8 बजे बोलियां एवं भजन संध्या।

02 फरवरी 2020
प्रातः 8ः30 बजे विनाया पूजन और हवन यज्ञ । प्रातः 11 बजे 9वां राष्ट्रिय प्रतिभा सम्मान समारोह (सीरवी संदेश चेरिटेबल संस्था) । रात्रि 8 बजे बोलियां एवं भजन संध्या।

03 फरवरी 2020
प्रातः 8ः30 बजे नवग्रह पूजन और हवन यज्ञ । प्रातः 12 बजे महिला कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम । रात्रि 8 बजे सोनू महाराज द्वारा प्रवचन, बोलियां एवं भजन संध्या।

04 फरवरी 2020
प्रातः 8ः30 बजे हवन यज्ञ । दोपहर 12 बजे गार्गी गोपाल दीदी द्वारा गौ माता कथा । रात्रि 8 बजे बोलियां एवं छोटू सिंह रावणा, मधूबाला, विनोद सोनी, अनिता भाटी द्वारा भजन संध्या।

05 फरवरी 2020
प्रातः 8ः30 बजे महाकूभ अभिषेक एवं हवन यज्ञ । दोपहर 12 बजे बाल योगी मनोजजी राठौड़ द्वारा आईमाता कथा । रात्रि 8 बजे बोलियां एवं श्याम पालीवाल, सरिता खारवाल, दीपिका राव, रवि बंजारा, महेन्द्र वैष्णव, नटवर झीतड़ा द्वारा भजन संध्या।

06 फरवरी 2020
प्रातः 8 बजे आईमाताजी का धर्मरथ (बैल) एवं परम पूजनीय धर्मगुरू दीववान श्री माधवसिंहजी का भव्य बंधावा एवं शोभायात्रा । रात्रि 8 बजे बोलियां एवं महेन्द्र राठौड़, सोनू सिसोदिया, नुतन गहलोत द्वारा भजन संध्या।

07 फरवरी 2020
प्रातः 7.44 बजे शुभ मुहूर्त प्राण प्रतिष्ठा, पाट स्थापना, अखण्ड ज्योति स्थापना, ध्वजा व कलश स्थापना, देवताओं की मूर्ति स्थापना, हवन यज्ञ पूर्णाहुति, महाआरती, हेलीकाॅप्टर द्वारा पुष्प् वर्षा, अतिथि स्वागत, धर्मसभा एवं महाप्रसादी।

निवेदक: समस्स सीरवी क्षत्रिय समाज, आईमाता चैक, बाली

Spread the love
, , , , , , , , , , , ,
Manohar Seervi

About Manohar Seervi

मनोहर सीरवी हेल्थ एण्ड वेलनेस कोच, पाली
View all posts by Manohar Seervi →