राष्ट्रीय स्तरीय साइकिल रोड रेस प्रतियोगिता 1200 किलोमीटर में प्रथम स्थान रहे सीरवी

कोयम्बटूर। शहर में राष्ट्रीय स्तरीय साइकिल रोड रेस प्रतियोगिता 12 जनवरी, 2019 का शुभारंभ कोयम्बटूर से प्रातः 5 बजकर 30 मिनट पर शुरू हुई। इस प्रतियोगिता में कुल 13 केंडिडेट ने हिस्सा लिया था। जिसमे एक महिला भी शामिल थी। 1200 किलोमीटर की साइकिल रोड़ रेस में विभिन्न शहरों से प्रतिस्पर्धा में कुल 13 केंडिडेट ने भाग लिया। महेश सीरवी ने बताया की दिनांक 12 जनवरी, 2019 को प्रातः 5.30 बजे शुरू हुई साईकलिंग रोड रेस जो विभिन्न रूट से शुरू हुई साइकोलॉजी- लक्ष्मी मिल्स जंक्शन-नॉर्थ कोयम्बटूर-करमदई-मेत्तूपालयम-कोथागिरी-कोडानाड दृष्टिकोण-यू-टर्न-कोठागिरी-मेट्टुप्पिरयम-अन्नुर-करुमथपट्टी-मोड़ एनएच 544- (173 किमी) ) -take विजयमंगलम (215.10 किमी पर) -tm cp-दोबारा विलय NH544 पर 217.20 किमी पर) -भारी-सलीम-सलेम-ओलापूर-क्षोप्नगिरि-तमिलनाडु होटल इत्यादि मार्गों से होते हुए कोयम्बटूर साइकिलिंग, नंबर 38, केआरके स्ट्रीट कृष्णास्वामी नगर, दूसरा लेआउट रामनाथपुरम पहुंची जिसमे सीरवी समाज के लाड़ले प्रथम साइकिल रोड़ रेस के किंग महेश सीरवी सुपुत्र ओगड़रामजी गहलोत मरुधर में मोरा गांव तहसील रायपुर वर्तमान में मैसूरु ने 1200 किलोमीटर की साइकिल रोड़ रेस महज 73 घण्टे 10 मिनट में पूरी कर प्रथम स्थान हासिल किया। दूसरे स्थान पर इब्राहिम गलिन जो 7 बजकर 20 मिनट पर तथा तीसरे स्थान पर संतोष 8 बजकर 55 मिनट पर पूरी की। सीरवी ने 16 घण्टे 50 मिनट पहले ही 1200 किलोमीटर की दूरी पूरी कर नया रिकॉर्ड बनाया। इससे पहले भी महेश सीरवी ने 1000 किलोमीटर साइकिल रोड़ रेस 75 घण्टे की रेश को 54 घण्टे 50 मिनट में तय की महज 1000 किलोमीटर की दूरी। सीरवी कहते है की जिंदगी की भागमभाग में शरीर को दुरुस्त रखने का समय ही नहीं मिल पाता। शरीर फिट नहीं रह पाता। नतीजा यह कि धीरे-धीरे शरीर में रोग घर कर लेते हैं। इससे बचने का सबसे बेहतरीन उपाय है दौड़ या साइकिलिंग अब महेश सीरवी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 18 अगस्त 2019 को फ्रांस के प्रसिद्ध नगर पेरिस में सीरवी समाज का परचम लहरायेंगे। यह जानकारी दुर्गाराम सीरवी पंवार कोयम्बटूर, मनोहर सीरवी राठौड़ मैसूरु-कर्नाटक ने दी।

Spread the love
मनोहर सीरवी (राठौड़)

About मनोहर सीरवी (राठौड़)

व्यवसाय : कमल भण्डार प्रोविजन स्टोर (मैसूर) राज्य : कर्नाटक जिला मैसूर,  मरूधर मे : बेरा नवोड़ा, गाँव जनासनी/सांगावास , तहसील : जैतारण, जिला-पाली राजस्थान
View all posts by मनोहर सीरवी (राठौड़) →